क्या आप बिना इंटरनेट के रह सकते है ? क्या आप इंटरनेट की दुनिया में पूरी तरह सुरक्षित है ? ऐसे में आपका उत्तर ना ही होगा। इंटरनेट पर बहुत सारे ऐसे सर्विस है, जिसे उपयोग करने के लिए आपको कुछ पर्सनल डाटा भी शेयर करना पड़ता है। क्या आपके द्वारा शेयर किया हुआ यह डाटा सिक्योर है ? नहीं बिलकुल भी नहीं। इंटरनेट एक ऐसा फैला हुआ जाल है, जिसका कोई अंत नहीं है। यह जितना हमारे लिए उपयोगी है उतना ही नुकशानदेह है। हालाँकि आप चाहे तो कुछ हद तक इन डाटा को सुरक्षित कर सकते है। इसके लिए आप बहुत सारे तरीको का इस्तेमाल कर सकते है, जिनमे से एक है Virtual private network (VPN).

लगभग हर एक इंटरनेट कंपनियां ज्यादा से ज्यादा फायदा कमाने केलिए आपके छोटी से छोटी जानकारी को ट्रैक करते है और उसे विज्ञापनदाताओं को बेच देते है। लेकिन आप Vertual Private Netwaork का उपयोग करके इस परेशानी से छुटकारा सकते है। अगर आप इंटरनेट पर ज्यादा से ज्यादा एक्टिव रहते है, तो आपको इसके प्रति बहुत गंभीर होना चाहिए। चलिए देखते है की ये Virtual private network (VPN) क्या होता है ?

Virtual Private Network (VPN) Kya Hota Hai?

आपको तो पता ही होगा की इंटरनेट पर कभी भी आपका डाटा हैक किया जा सकता है, यानि चुराया जा सकता है। जो आपके लिए काफी नुकशानदेह हो सकता है। लेकिन अगर आप एक वर्चुअल प्राइवेट नेटवर्क (वीपीएन) का उपयोग करते है, तो आप अपने डाटा और अपने आपको इंटरनेट पर सुरक्षित रख सकते है। यह एक ऐसी टेक्नोलॉजी है जो आपके द्वारा ट्रांसफर किये हुए डाटा को एन्क्रिप्ट करता है। ऐसा हो जाने से को तीसरा आपके डाटा को पढ़ नहीं सकता है।

साथ ही साथ आप अपने Identity को भी छुपा सकते है। अगर आपको लगता है की आपके पास कुछ ऐसा नहीं है जो चुराया नहीं जा सकता है, तो आप गलत है। अगर आप खुली जगह पर किसी WiFi का इस्तेमाल करते है तो यह बहुत खतरनाक है। जैसे की Airport, Coffie Shop और Shopping Mall का WiFi इत्यादि। ऐसी जगह पर आपको सावधान रहना चाहिए, और Virtual Private Network का इस्तेमाल करके ब्राउज़िंग करना चाहिए।

Advantage Of Virtual Private Network

Virtual Private Network एक माध्यम की तरह काम करता है, जो आपके और वेबसाइट के बिच में मौजूद होता है। अगर आप इस सर्विस का उपयोग करते है तो आपको इसके बहुत सारे फायदे मिलते है। जिसके बारे में हम निचे पढ़ेंगे।

Scure Protocol

Virtual Private Network एक सुरक्षित एन्क्रिप्टेड प्रोटोकॉल का इस्तेमाल करता है। जिससे आपका डाटा सिक्योर हो जाता है, और साथ ही साथ आप इसे सुरक्षित तरीके से ब्राउज़िंग कर सकते है। यानि कहने का मतलब यह है की आपको SSL/TLS जैसे सर्विस भी मिलती है।

Server Locations

vpn का उपयोग करके आप चाहे तो अपनी identity भी छिपा सकते है। अगर आप चाहते है की आपकी लोकेशन ट्रैक ना हो तो आप किसी और देश का VPN Server का उपयोग कर सकते है। इसके अलावा आप एक से अधिक VPN Server का ऑप्शन चयन कर सकते है।

Malware and Spyware

आप रोजाना कुछ न कुछ डाउनलोड करते रहते है। ऐसे में हो सकता है की आप किसी Malware को डाउनलोड कर ले। ये आपके डिवाइस को हानि पहुंचा सकते है। लेकिन अगर आप वीपीएन का उपयोग करते है तो इससे बच सकते है। यह सर्विस आपको रिस्क फ्री डाउनलोड में काफी मदद करता है। हालाँकि इसके लिए आपको हमेशा HTTPS वाली वेबसाइट का इस्तेमाल करना चाहिए।

Free VPN Service 

आप चाहे तो Virtual Private Network(VPN) सर्विस फ्री और पेड करके प्राप्त कर सकते है। लेकि अगर आप अपने डाटा के प्रति संवेदनशील है तो आपको कुछ पैसे खर्च करके यह सुबिधा का लाभ उठाना चाहिए। क्योंकि फ्री की चीजे कैसी होती आपको पता ही है। अगर आप पेड सर्विस चुनते है तो आपको बहुत सारी सुबिधाये आपको गारंटी के साथ मिलती है। यानि आप ऐसे सर्विस प्रोवाइडर पर विस्वास कर सकते है।अगर आप फ्री सर्विस चुनते है तो हो सकता है, आप किसी अंजान खतरे को बुला ले।

Conclusion 

दोस्तों आज हमने यह जाना की वर्चुअल प्राइवेट नेटवर्क क्या होता है और इससे हमें क्या फायदा मिलता है। आशा करता हु आपको पसंद आया होगा। अगर अच्छा लगा तो इसे लाइक और शेयर करना न भूले।

“धन्यबाद” 

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.