free me website kaise banaye 2019 – wordpress or blogger (full guide)

free me website kaise banaye 2019 - wordpress or blogger (full guide) 1

Free me website kaise banaye

ब्लॉग्गिंग का नाम लेते ही आपके मन में यह सवाल जरूर आता होगा की यह क्या है ? free website kaise banaye? इसकेलिए हमें किन चीजों की जरुरत होगी ? इत्यादि। लेकिन हम आज की पोस्ट में हम ब्लॉग या वेबसइट किस जगह पर बनाये इसके बारे में चर्चा करेंगे। हम पहले ही एक आर्टिकल पब्लिश कर चूका हु, जिसमे बताया गगया है कि ब्लॉग कैसे शुरू करें, किन चीजों की जरूरत होगी को पढ़ सकते है। लेकिन हम अब थोड़ा आगे बढ़ेंगे और ब्लॉग को शुरू करने की दो जगहों ( ब्लागर और वर्डप्रेस) के बारे में बात करेंगे। इन दोनों प्लेटफॉर्म में से कौन सा अच्छा रहेगा और हमें क्या क्या सुबिधा मिलेगी। 

चलिए इसी के साथ आगे बढ़ाते है। सबसे पहले आपको यह तय करना हॉग की क्या आप अपने ब्लॉग या वेबसाइट को कहाँ पर होस्ट करना चाहते है। सबसे पहले आपको मै थोड़ा shortcut में होस्टिंग के बारे में बता देता हूं की होस्टिंग क्या है? मान लीजिए कि आपके पास एक घर है और किस शहर में है यह नही बताएंगे टैब तक किसी को पता चलेगा । ठीक उसी तरह आप के पास एक ब्लॉग है और उसका पता होस्टिंग है ।

आज हम वर्डप्रेस और ब्लॉगर पर free website kaise banaye बारे बात करेंगे, और अंत मे आपको पता चल ही जायेगा कि दोनों में क्या अंतर है । अब आपके ऊपर है कि आप कौन सा प्लेटफॉर्म चुनते है ।

WordPress par new website kaise banaye

सबसे पहले हम आपको यह बता देते है, की दुनिया की 50 % से ज्यादा वेबसाइट या ब्लॉग के ओनर इसका ही उपयोग करते है। क्योंकि यह आपके के वेबसाइट को एक बेहतर लुक देने के साथ साथ उसे नयी उचाईयो पर ले जाने में सक्षम है। यदि आप भी वर्डप्रेस को चुनना चाहते है तो मैं आपको बता दु की यह फ्री और Paid दोनो वर्जन में उपलब्ध है । आप जो चाहे उसे चुन सकते है । दोनो ही आपके लिए अच्छा रहेगा यह आप पे देपेंद करता है कि आप फ्री में करना चाहते है या Paid वाला चुनते है।

WordPress.com फ्री वर्जन

क्या आप free website kaise banaye के बारे में सोच रहे है। शुरुआत में कोई भी पैसा खर्च नही करना चाहते तो आप इस प्लेटफॉर्म को आंख बंद करके चुन सकते है। यह बिल्कुल फ्री है । अगर आप चाहे तो बाद में इसे अपग्रेड भी कर सकते है। वर्डप्रेस के कई प्लान उपलब्ध है, जिसे आप अपने बजट के अनुसार चुन सकते है। मेरा मानना है कि आप कोई भी जल्दबाजी ना करे सोच समझ कर ही प्लान का चयन करें । आप उसी प्लान को चुने जो आपके लिये फायदेमंद हो। क्योंकि वर्डप्रेस आपको विज्ञापन दिखाकर प्लान अपग्रेड करने का लालच भी देता है ।

WordPress.com के पक्ष में कुछ बातें

  • यह बिल्कुल फ्री है, आपको पैसे नही खर्च करने पड़ेंगे।
  • आपको लिये किसी भी प्रकार के Coding या Designing के नॉलेज की कोई जरूरत नहीं होती ।
  • आप कोई भी टॉपिक ले सकते है ।
  • बिल्कुल सरल और तेज है, जिसे आप आसानी से कर सकते है ।

WordPress.com के विपक्ष में कुछ बातें

  • इसके फ्री वर्जन में आप कुछ ही फ़ीचर को उपयोग कर पाएंगे।
  • अगर आप सारे फीचर यूज करना है , तो पैसे देने होंगे।
  • इसका फ्री वर्जन उतना प्रीमियम नही दिखता है।
  • इसके फ्री वर्जन में आपके ब्लॉग या वेबसाइट पर वर्डप्रेस का विज्ञापन दिखाया जाएगा।
  • आपकी वेबसाइट को कभी भी हटा दिया जा सकता है।
  • आपको sub-domain दिया जाएगा जो WordPress के साथ होगी। जैसे Example.wordpress.com 

WordPress paid version के बारे मे

WordPress.org एक फ्री सॉफ्टवेयर है जिसपे आप एक ब्लॉग या वेबसाइट को शुरू कर सकते है । लेकिन इसे आप होस्टिंग के साथ ही यूज कर सकते है, जिसके लिये आपको पैसे देने होंगे। उसके बाद ही इसे इनस्टॉल कर सकते है। क्योंकि इसके लिये आपने खर्च किये हैं, इस लिए इसके कई सारे फ़ीचर जोड़ दिए जाते है। अगर आपको थोड़ा बहुत भी HTML Coding के बारे में जानते है, तो आप इसे और भी बेहतर बना सकते है।

इसमें आपको वर्डप्रेस का कोई भी विज्ञापन नहीं दिखाया जायेगा। आप आसानी से इसमें प्लगइन इंस्टॉल कर सकते है जो आपके ब्लॉग या वेबसाइट को रैंक करवाने में काफी मदद करते है। इसमें सबसे अच्छी बात ये है की अगर आपको HTML कोडिंग आती है तो आप इसे और भी जाया कस्टमाइज कर सकते है। अगर आप हर महीने कुछ पैसे खर्च कर सकते है तो यह आपके लिए काफी उत्तम रहेगा। 

WordPress Paid Version के पक्ष में 

  • यह काफी यूजर फ्रेंडली है, जिससे आप इसे आसानी से उपयोग कर सकते है। 
  • इसके ऊपर आपका पूरा कण्ट्रोल होता है। 
  • wordpress me आपको अनेको टॉपिक पर ढेर सारी प्लगइन मिल जाती है। 
  • इसमें आपको सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन का भी ऑप्शन मिलता है। 
  • इसमें आप एडसेंस का अप्रूवल लेकर पैसा भी कमा सकते है। 

WordPress Paid Version के विपक्ष में 

  • इसे उपयोग करने के लिए आपको होस्टिंग का यूज करना पड़ता है, जिसे सेटअप करने के लिए आपको थोड़ा टेक्नोलॉजी का ज्ञान होना जरुरी है। 
  • इसमें आपको सिक्योरिटी की प्रॉब्लम देखने को मिल सकती है। 
  • इस पर आपका पूरा कण्ट्रोल होता है, इसलिए किसी भी परेशानी का आप जिम्मेदार है। 

रुकिए क्योंकि अब मै आपके लिए दूसरे ऑप्शन Blogger के बारे में बताने वाला हु। इसे आप पढ़कर जान पाएंगे की इसका उपयोग कितना सरल है और इसकयाहै पर ब्लॉग बनाना फायदेमंद है की नहीं। साथ ही यह WordPress के मुकाबले अच्छा है की नहीं। इसमें हमें क्या क्या फीचर मिलेंगे। 

Blogger के बारे में 

Blogger एक Google के द्वारा दिया गया फ्री प्लेटफॉर्म है, जहा पर आप आसानी से एक Blog बना सकते है। इसके लिए आपको कभी भी किसी तरह का खर्च करने की जरुरत नहीं पड़ेगी। लेकिन अगर आप इसे एक Custom Domain से लिंक करना चाहते है, तो आपको इस Domain को खरीद सकते है। इस डोमेन को आप गूगल से भी खरीद सकते है या फिर किसी और वेबसाइट से भी खरीद सकते है। क्योंकि यह ब्लॉगर एक Google का प्रोडक्ट है, तो जाहिर सी बात है इसमें आपको कई सारे फायदे होंगे। आप गूगल के अन्य प्रोडक्ट जैसे को गूगल ऐडसेंस, गूगल एनालिटिक्स और गूगल वेबमास्टर्स टूल्स का यूज आसानी से कर पाएंगे। 

यह  ब्लॉगर उन लोगो के लिए काफी फायदेमंद है, जो ब्लॉग्गिंग का शौक रखते है। यह बिलकुल फ्री है इसमें आपको पैसे खर्च करने की जरुरत नहीं है, और साथ ही साथ आप यहाँ से गूगल एडसेंस की मदद से अच्छा खासा पैसा भी कमा सकते है। यह आपके ब्लॉग्गिंग के शुरुवाती दौर में काफी मददगार साबित हो सकता है। यहाँ पर आप HTML Coding की सहायता से आप अपने ब्लॉग को एक अच्छी दिखने वाली वेबसाइट की लुक दे सकते है। इसको आप अच्छी तरह से अपने मन मुताबिक कस्टमाइज भी कर सकते है। अपने ब्लॉग को आप एक टेम्पलेट/थीम लगाकर इसे एक वेबसाइट का लुक दे सकते है। 

Blogger के पक्ष में कुछ बाते 

  • Blogger को उपयोग करना बहुत ही आसान है, साथ ही साथ यह आपके लिए फ्री भी है। 
  • आप ब्लॉगर में गूगल ऐडसेंस का विज्ञापन लगाकर पैसे भी कमा सकते है। 
  • ब्लॉगर के अन्य प्रोडक्ट जैसे Google Analytics का प्रयोग भी अत्यंत आसान है, जिसकी मदद से आप अपने ब्लॉग पर ट्रैफिक को देख सकते है। 
  • ब्लॉगर को और भी बेहतर बनाने के लिए आप गूगल के महत्वपूर्ण टूल का प्रयोग कर सकते है। 
  • इसे आप HTML की मदद से कस्टमाइज कर सकते है। 
  • यह गूगल पर होस्ट होता जिससे आपका होस्टिंग का खर्च बच जाता है। 

Blogger के विपक्ष में कुछ बातें 

  • आप बहुत काम थीम का ही उपयोग कर पाएंगे। 
  • इसमें स्टोरेज कमी है। 
  • इसमें आप प्लगइन का इस्तेमाल नहीं कर सकते। 
  • इसे आप कुछ हद तक ही ऑप्टिमाइज़ कर सकते है। 
  • सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन का आभाव है। 
  • इसमें आप अपने डाटा तक डायरेक्टली नहीं पहुँच सकते क्योंकि यह गूगल पर होस्ट होता है। 

मैंने वर्डप्रेस और ब्लोगेर दोने की पक्ष और विपक्ष के बारे में बता दिया है। मुझे विश्वास है की आप यह अच्छी तरह से समझ गए होंगे की वर्डप्रेस और ब्लॉगर में क्या क्या सुबिधा मिलेगी। आप आपके ऊपर है की आप कौन सा प्लेटफार्म अपने ब्लॉग के चुनते है। 

Write a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.