दोस्तों आखिर में वो दिन आ ही गया जब दुनिया की सबसे बड़ी स्मार्टफोन बनाने वाली कंपनी एप्पल ने अपने नए फ्लैगशिप फ़ोन को बाजार में उतरने वाली है वो इस प्रकार है ऐप्पल आईफोन एक्सएस, आईफोन एक्सएस मैक्स जो ड्यूल सिम के फैसिलिटी के साथ आने वाला जो किसी भी Iphone में नहीं था। इस वर्ष के अंत में आईओएस 12 अपडेट के माध्यम से शुरू की जाएगी। यह ध्यान देने योग्य है कि चीन, हांगकांग और मकाऊ एकमात्र बाजार हैं जो दो भौतिक सिम स्लॉट के लिए समर्थन प्राप्त करेंगे, जबकि ऐप्पल भारत समेत शेष दुनिया के लिए दूसरे स्लॉट में eSIM का ऑप्शन मिलेगा।  इसका मतलब है कि दूसरा सिम स्लॉट कैरियर लॉक होगा, और कनेक्शन को सक्रिय करने के लिए उपयोगकर्ताओं को physical  सिम कार्ड डालने की आवश्यकता नहीं होगी। तो, आईये जानते है इसका मतलब क्या है। 

ड्यूल सिम के साथ eSIM क्या है?

एक नेटवर्क प्रोवाइडर का eSIM किसी के डिवाइस में डिजिटल रूप से मौजूद होता है। इसलिए, उपयोगकर्ताओं को सेलुलर नेटवर्क तक पहुंचने के लिए Physical सिम कार्ड डालने की आवश्यकता नहीं है। इसके अलावा, eSIM पर सेलुलर योजनाओं को दूर से ही एक्टिव कर सकते है। Traditional physical सिम कार्ड विकल्प की तुलना में eSIM विकल्प अधिक कुशल माना जाता है। ऐप्पल आईफोन एक्सएस, आईफोन एक्सएस मैक्स उपयोगकर्ता अपने फोन में दो eSIM कनेक्शन के बीच स्टोर और स्विच कर सकते हैं। 

सिम सपोर्ट भारत उपयोगकर्ताओं के लिए क्या है?

2018 के अंत आईफोन के दोनों मॉडल दोनों ड्यूल-सिम का सपोर्ट करेंगे, लेकिन जहां दूसरे स्लॉट में eSIM का ऑप्शन होगा। वही आईफोन एक्सआर में भी विकल्प होगा जो इन दोनों मॉडल के बाद लॉन्च किया जाएगा। लेकिन आप दोनों नंबरों को कॉल करने और प्राप्त करने के साथ-साथ एसएमएस और एमएमएस भेजने और प्राप्त करने के लिए भी उपयोग कर सकते है। 

हालाँकि भारत में, eSIM कनेक्शन को प्रोवाइड करने वाले कर्रिएर का ऑप्शन कम है। इस समय भारत में  केवल eSIM को एक्टिव करने के लिए केवल एयरटेल और रिलायंस जियो कनेक्शन का ही आप उपयोग कर सकते है। लेकिन आप बाद में  वोडाफोन जैसे अधिक दूरसंचार ऑपरेटर के द्वारा जल्द ही इस सुविधा की प्राप्त कर सकते है। इसका मतलब ये है की भारत के उपयोगकर्ता पहले स्लॉट में अपनी पसंद के किसी भी ऑपरेटर के Physical सिम कार्ड (नैनो सिम) डाल सकते हैं, लेकिन वही दूसरे स्लॉट में केवल जियो या एयरटेल कनेक्शन का उपयोग हो सकता है।

eSIM को कैसे एक्टिव करे

आईफोन एक्सएस, आईफोन एक्सएस मैक्स पर दो अलग-अलग नेटवर्क का उपयोग करने के लिए आपको यह ध्यान में रखना होगा कि आपका फोन अनलॉक होना चाहिए। अन्यथा, दोनों प्लान एक ही कर्रिएर से होनी चाहिए। आप लोगों को अपने आईफोन का उपयोग क्यूआर कोड को स्कैन करने के लिए करना होगा, जो उनके नेटवर्क प्रोवाइडर ने eSIM के साथ सेलुलर प्लान को एक्टिव करने के लिए कैर्रिएर द्वारा दिए गए QR  कोड को ऐड किया है। 

कार्ड के बीच कैसे स्विच करें

दोनों सिम स्लॉट एक्टिव होने के बाद, यूजर अपना डिफ़ॉल्ट नंबर किसी ऐसे व्यक्ति को कॉल या भेजने के लिए सेट कर सकते हैं जो उनके कांटेक्ट लिस्ट में नहीं है। इस नंबर का उपयोग iMessage और FaceTime द्वारा भी किया जा सकता है। 

ऐप्पल आईफोन एक्सएस, आईफोन एक्सएस अधिकतम उपयोगकर्ता या तो वॉइस, एसएमएस, डेटा, iMessage, और FaceTime के लिए डिफ़ॉल्ट रूप से अपना प्राइमरी नंबर चुन सकते हैं। यदि उपयोगकर्ताओं को अपना दूसरा नंबर डिफ़ॉल्ट रूप से चुनना हो , तो प्राथमिक को वॉयस और एसएमएस के लिए प्रतिबंधित करना पड़ेगा। सेलुलर डेटा के लिए द्वितीयक विकल्प का उपयोग करने के साथ-साथ तीसरा विकल्प भी है।

कॉल कैसे करें

जब ऐप्पल आईफोन एक्सएस, आईफोन एक्सएस मैक्स पर दोनों सिम स्लॉट एक्टिव  होते हैं, तो फ़ोन डिफ़ॉल्ट रूप से उसी नंबर का यूज करेगा जिसे व्यक्ति पिछली बार कांटेक्ट करने के लिए उपयोग करता था। यदि यूजर ने पहले कभी संपर्क नहीं किया है तो कॉल करने के लिए यह डिफ़ॉल्ट नंबर चुनता है। संपर्क को कॉल करने के लिए संख्या स्पेसिफै करने का एक विकल्प भी है।आपको कॉल करने या कॉल प्राप्त करने के लिए दोनों नंबर में से किसी एक का उपयोग किया जा सकता है।  

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.